Wednesday, February 8, 2023
HomeShare MarketShare Market Me Chart Kaise Samjhe - हिंदी में

Share Market Me Chart Kaise Samjhe – हिंदी में

Share Market : आज के समय में ज्यादातर लोग देखें तो शेयर मार्केट करने की सोचते है और उससे अपना अच्छे से अच्छा प्रॉफिट कमाना चाहता है कुछ लोग शेयर मार्केट को पैसा कमाने का एक अच्छा जरिया मानते हैं और कुछ लोग इसे सत्ता अथवा जुवा समझ के इस्मे निवेश करते हैं फिर उसके बाद उन्हें हानि सहन करनी पड़ती है, आज में आपको बतादू की शेयर मार्केट नाही तो सट्टा बाजार है और नाही इसमें तुक्का लगा जा सकता है जिसे शेयर बाजार का संपूर्ण ज्ञान है वही इसमें अच्छे से अच्छी राशि बना सकता है।

जो ट्रेडर करने वाले लोग होते है उनके मन में ये विचार आता है की शेयर मार्किट में पैसा इन्वेस्ट करना क्या सही है तो में कहु है बिलकुल सही है लेकिन एक सही जानकारी और सम्पूर्ण ज्ञान के साथ करनी चाहिए लेकिन एक बात जो आपको हमेशा ध्यान में रखनी चाहिए, वह यह है कि ये रणनीतियाँ के साथ साथ आपको जैसे न्यूज़,अंतरस्ट्री न्यूज़ वगैरह चीज़ो की जानकारी भी होना आवश्यक है। उसके लिए आपको स्ट्रेटेजी को समझना बहुत आवश्यक होगा। इसीलिए आज हम आपके लिए कुछ ऐसी स्ट्रेटेजी को लाये है जिसका कैंडलस्टिक उपयोग करके आप अपनी राशि को बना सकते हो। इसलिए आज हम आपके लिए share market ke candle kaise sikhe लाये है जिससे आपको शेयर मार्केट की कैंडल्स के बारे में अच्छे से जानकारी प्राप्त हो जाये

Candle Stick के बारे में

सर्वप्रथम जो Green कैंडल होती है उसे शेयर बाजार में Bullish कैंडल के नाम से जाना जाता है अगर आप ध्यान से देखे तो बुलिश कैंडल की जो सबसे निचे का पार्ट है उसे Shadow अथवा Rejection कहते है और फिर हरी कैंडल की कीमत निचे के सिरे से खुलती है और बिच का जो पार्ट होता है उसे कैंडल की Body कहते है। उसके ऊपर closing देती है जिससे यह पता चलता है की कैंडल की क्लोजिंग क्या है फिर उसके बाद कैंडल का हाई जो की बुलिश कैंडल स्टिक की आखरी कीमत प्रदर्शित करती है।

अब Red कलर की जो कैंडल है उसे bearish कैंडल के नाम से जाना जाता है जो की हमारे घटते हुए कीमत को प्रदर्शित करती है। इसकी open प्राइस ऊपर से शुरू होती है क्युकी इसकी मूवमेंट निचे की तरफ से जाना शुरू करती है तो सबसे पहले इसकी हाई प्राइस और फिर वह से उसकी ओपन प्राइस शुरू होती है फिर body बनती है,बाद में कैंडल क्लोजिंग देती है कीमत की और फिर उसका low पार्ट यानी जिसे shadow अथवा रिजेक्शन कहते है।

Type of Bulish Candle & Bearish Candle

Bulish Candle के प्रकार

1.Bulish Engulfing

Bulish Engulfing को 2 कैंडल के संयोग द्वारा पहचाना जाता है जिसमे २ कैंडल का होना आवश्यक है बुलिश एंगलफिंग में अगर सबसे पहले लाल वाली कैंडल छोटी बनती है और उसके बाजु में हरी वाली उससे बड़ी बनी है अर्थात बड़ी ग्रीन वाली छोटी रेड वाली कैंडल को खा जाती है तो वह कैंडल बुलिश एंगलफिंग के नाम से जानी जाती है। जिससे इस बात का अनुमान हो जाता है की मार्किट अब ऊपर जाने के लिए तैयार है। जैसे ही Engulfing candle बनता है इसके बाद मार्किट पर बुल्स का कब्ज़ा हो जाता है जो की चल रह निचे के ट्रेंड से ऊपर को जाने के संकेत देती है मतलब की मार्किट में (bullish) तेजी आ जाती है जिसके बाद हम शेयर को buy करते है।

2.Hammer

Hammer कैंडल अर्थात हथोड़ी के आकर की या तो हथोड़ी जैसी की ऊपर से थोड़ी से विक निकली हो और निचे से लम्बी विक हो जिसे हैमर कैंडल के नाम से पहचाना जाता है। कभी कभी लगातार डाउन ट्रेंड रहने पर अगर आपके द्वारा बनाये गए सपोर्ट जोन में हैमर बन जाती है तो आप ट्रेड लेने से पीछे न हटना क्युकी ये मार्केट के ऊपर जाने का अच्छा खासा संकेत है इसका मतलब है की अब मार्केट में बुलिश आने वाला है और आप मार्केट को buy कर सकते है।

3.Inverted Hammer

ये कैंडल भी एकदम बिलकुल हैमर कैंडल की तरह ही होती है बस हैमर को उल्टा कर दीजिये जिसे इनवर्टेड हैमर के नाम से जाना जाता है। ये कैंडल भी रहे डाउन ट्रेंड को up करने में बहुत ही मदद करती है तो आप इसमें भी ट्रेड लेने से पीछे न हटना क्युकी ये कैंडल भी मार्केट के ऊपर जाने का अच्छा संकेत है इसका मतलब है की अब मार्केट में बुलिश ट्रेंड अथवा up ट्रेंड आने वाला है और आप मार्केट को buy कर सकते है।

4.Morning Star

Morning Star कैंडल में मल्टीपल कैंडल अर्थात तीन केन्डालो का संयोजन होता है बिच में कैंडल बनती है जो हॉरिजॉन्टल और वर्टिकल दोनों तरफ से सिर्फ विक ही बनती है बिलकुल पतली सी उसे दोजी कैंडल के नाम से जाना जाता है उस दोजी के बनने के बाद अगर कोई बुलिश कैंडल बन जाती है तो इसका मतलब यह है की मार्केट की तैयारी अब ऊपर जाने में है। जिसमे buyers अपने स्टॉक को buy करते है।

5.Bulish Harami

Bulish Harami को भी २ केन्डलो द्वारा पहचाना जाता है जिसमे २ कैंडल का संयोग है अगर बुलिश हरामी में सबसे पहले लाल वाली कैंडल बड़ी बनी और उसके बाजु में हरी वाली उससे छोटी बनी तो वह कैंडल Bulish Harami के नाम से जानी जाती है। जिससे फिर से इस बात का अनुमान हो जाता है की मार्किट अब ऊपर जाने के लिए तैयार है। जैसे ही बुलिश हरामी candle बनती है तो इसके बाद एक बार फिर से मार्केट पर बुल्स का कब्ज़ा हो जाता है जो ट्रेंड को ऊपर को जाने के संकेत देती है मतलब की मार्किट में तेजी आ आने वाली है।

इसे भी जरूर पढ़े : Share Market क्या है आसान भाषा में समझे ?

Bearish Candle के प्रकार

1.Bearish Engulfing

Bearish Engulfing भी 2 कैंडल के संयोग द्वारा पहचाना जाता है जिसमे २ कैंडल का होना आवश्यक है बियरीश एंगलफिंग में अगर सबसे पहले हरी वाली कैंडल छोटी बनती है और उसके बाजु में लाल वाली उससे बड़ी बनती है अर्थात बड़ी रेड वाली छोटी ग्रीन वाली कैंडल को खा जाती है तो वह कैंडल बियरीश एंगलफिंग के नाम से जानी जाती है। जिससे इस बात का पता लग जाता है की मार्किट अब निचे जाने के लिए तैयार है। जो की चल रह up ट्रेंड से निचे के ट्रेड को जाने के संकेत देती है मतलब की मार्किट में bearish अथवा मंदी आ जाती है जिसके बाद हम शेयर को sell को buy करते है।

2.Hanging Man

Hanging Man

Hanging Man कैंडल भी अर्थात हथोड़ी के आकर की या तो हथोड़ी जैसी की ऊपर से थोड़ी से विक निकली हो और निचे से लम्बी विक हो जिसे हैमर कैंडल के नाम से पहचाना जाता है जैसे हैमर होती है लेकिन फर्क सिर्फ इतना है की वह हरी कलर की होती है और ये लाल कलर की होती है तभी इसे बियरीश कैंडल के नाम से जनि जाती है। ये कैंडल रेजिस्टेंस पर बनती है। कभी कभी लगातार up ट्रेंड रहने पर अगर आपके द्वारा बनाये गए Resistance जोन में hanging man बन जाती है तो आप ट्रेड लेने से पीछे न हटना क्युकी ये मार्केट के निचे जाने का अच्छा संकेत है इसका मतलब है की अब मार्केट में डाउन ट्रेंड आने वाला है और आप मार्केट को sell को buy कर सकते है।

3.Shooting Star

ये कैंडल भी एकदम बिलकुल Shooting Star कैंडल की तरह ही होती है बस Hanging Man कैंडल को उल्टा कर दीजिये जिसे Shooting Star कैंडल के नाम से जाना जाता है। ये कैंडल भी रहे up ट्रेंड को down करने में बहुत ही मदद करती है तो आप इसमें भी ट्रेड लेने से पीछे न हटना क्युकी ये कैंडल भी मार्केट के निचे जाने का अच्छा संकेत है इसका मतलब है की अब मार्केट नीचे जा सकता है अथवा down ट्रेंड आने वाला है और आप मार्केट को sell को buy कर सकते है।

4.Evening Star

Evening Star कैंडल में मॉर्निंग स्टार जैसे ही मल्टीपल कैंडल अर्थात तीन केन्डालो का संयोजन होता है इसमें भी बिच में दोजी बनती है दोजी के बनने के बाद अगर कोई बियरीश कैंडल बन जाती है तो इसका मतलब यह है की मार्केट अब नीचे जाने के लिए तैयार है जिसमे buyers अपने स्टॉक को sell को buy करते है।

5.Bearish Harami

Bulish हरामी की तरह बियरीश हरामी भी २ केन्डलो द्वारा पहचाना जाता है जिसमे २ कैंडल का संयोग होता है अगर बियरीश हरामी में सबसे पहले हरी वाली कैंडल बड़ी बनी और उसके बाजु में लाल वाली उससे छोटी बनी तो वह कैंडल Bearish Harami के नाम से जानी जाती है। जिससे फिर से इस बात का अनुमान हो जाता है की मार्किट अब नीचे जाने के लिए तैयार है। जैसे ही बियरीश हरामी candle बनती है तो इसके बाद एक बार फिर से मार्केट नीचे जाने के लिए तैयार हो जाता है जो ट्रेंड को नीचे जाने के संकेत देती है मतलब की मार्किट में गिरावट आने वाली है। ये कैंडल भी रेजिस्टेंस पर बनती है

याद रखे की बुलिश की जितनी भी कैंडल्स बनती है वो सपोर्ट जोन में बनती है और जो बियरीश कैंडल्स होती है वो सभी रेजिस्टेंस लेवल पर बनती है जिससे शेयर मार्केट में ट्रेड आसानी से ले सकते है और लोस्स काम प्रॉफिट ज्यादा बुक कर सकते है।

Share Market FAQ

1.

तो इसका जवाब यह है की दोजी का कलर बिलकुल भी मैटर नहीं करता महत्ववपूर्ण बात यह है की दोजी के बनने के बाद कौनसी कैंडल बनती है।

मुझे आपसे पूरी उम्मीद है की आपको मेरा ये blog की Share Market Ke Candle Kaise Sikhe आपको जरुर पसंद आई होगी। मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की मेरा ब्लॉग के reader को इस विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे websites में उस article के विषय में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी जानकारी भी प्राप्त हो जाये अगर आपको कुछ समझने में दिक्कत हो आ रहा हो तो आप मुझे नीचे comment भी कर सकते हो।

Evening Star और Morning Star बनने में दोजी का कलर कोन-सा होगा ?

तो इसका जवाब यह है की दोजी का कलर बिलकुल भी मैटर नहीं करता महत्ववपूर्ण बात यह है की दोजी के बनने के बाद कौनसी कैंडल बनती है।

Share Market में Candle का उपयोग क्यों किया जाता है?

शेयर मार्किट के चार्टों में मीटर मार्केट कैंडल (candle) का उपयोग किया जाता है। एक मार्केट कैंडल एक ट्रेडिंग सीजन के खरीद व बेच मार्केट मूल्यों को दर्शाता है। यह एक हस्ताक्षर है जो एक ट्रेडिंग सीजन में खरीदी हुई मार्केट मूल्य, बेची हुई मार्केट मूल्य, उच्चतम मार्केट मूल्य, निम्नतम मार्केट मूल्य और प्रतिस्पर्धी मार्केट मूल्य को दर्शाता है।

शेयर मार्केट में कैंडल स्टिक क्या है? 2023

शेयर मार्केट में कैंडल स्टिक एक विश्लेषण टूल है जो ट्रेडिंग सीजन में मार्केट मूल्यों का प्रदर्शन करता है। इसमें कैंडल चार्ट का उपयोग किया जाता है जो एक ट्रेडिंग सीजन के खरीद व बेच मार्केट मूल्यों को दर्शाता है। कैंडल स्टिक में खरीदी हुई मार्केट मूल्य, बेची हुई मार्केट मूल्य, उच्चतम मार्केट मूल्य, निम्नतम मार्केट मूल्य और प्रतिस्पर्धी मार्केट मूल्य को दर्शाता है। इसमें, हर एक कैंडल एक ट्रेडिंग सीजन की जानकारी दर्शाता है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments