Tuesday, February 7, 2023
HomeHealthLiv 52 Syrup Uses in Hindi - 2022

Liv 52 Syrup Uses in Hindi – 2022

Liv 52 Syrup : Himalaya Liv.52 सिरप मुख्य रूप से लिवर रोग के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है जोकि पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक है। इसके अलावा इसका उपयोग शरीर में होने वाली अन्य दूसरी समस्याओं के समाधान के लिए भी किया जा सकता है। हिमालया लिव 52 सिरप लीवर टॉनिक है जो एक्यूट लीवर फेलियर के खिलाफ उपचार की सबसे प्रभावी दवाओं में से एक है। यह लीवर टॉनिक एक सिरप के रूप में आता है जो पचने में आसान होता है और इसलिए इसे बच्चों, वयस्कों और वरिष्ठ नागरिकों दोनों द्वारा इसका सेवन किया जा सकता है। हिमालया प्रोडक्ट के इस लीवर में आवश्यक हेपेटोप्रोटेक्टिव तत्व होते हैं जो लीवर को चारो ओर से सुरक्षा प्रदान करने में सहायक होता हैं। यदि इसे कम आयु में सेवन किया जाए, तो यह जीवन के बाद के समय में भी बीमारियों के खिलाफ रक्षा को बढ़ावा देने में मदद करेगा।

लिव 52 सिरप को एक बहुत ही चर्चित और प्रसिद्ध कंपनी द्वारा निर्मित किया गया है जोकि हिमालया का प्रोडक्ट है,इस सिरप में हिमस्रा, कासनी जैसे मुख्य घटक हैं।

हिमस्रा

हिमस्रा जिसे अंग्रेजी में केपर बुश के नाम से भी जाना जाता है। यह एक बारहमासी पौधा है। जो मुख्य रूप से भूमध्यसागरीय देशों एवं आर्द्र जलवायु में ही मिलते है। हिमस्रा एक प्रकार की जड़ी-बूटी ही है। जो गठिया जैसे और अन्य इलाज के लिए भी इसका उपयोग किया जाता है। क्योंकि इसमें वात संतुलन गुण मौजूद होते हैं। हिमस्रा का स्वाद कलियों में तीखा और एक प्रकार से अनूठा होता है।

  • इसमें शरीर के किसी भी हिस्से में सूजन को कम करने वाली दवाओं का मिश्रण है।
  • मनुष्य लिवर के कार्य की क्षमता को बढ़ाने और उसमे हुए नुकसान को मरम्मत करने वाले पदार्थ है।
  • ऐसे तत्व जिनका इस्‍तेमाल फ्री रेडिकल्‍स की सक्रियता को कम करने और ऑक्‍सीडेटिव स्‍ट्रेस (मुक्त कणों के बनने और उनके शरीर के प्रति हानिकरक प्रभाव को न रोक पाने के बीच का असंतुलन) को रोकने के लिए ही इसका उपयोग किया जाता है।

कासनी

कासनी अथवा चिकोरा आयुर्वेद में चिकित्सा के क्षेत्र में औषधि के रुप में इसका बहुत प्रयोग में किया जाता है।

  • शरीर में उपस्थित ऑक्सीजन के मुक्त कणों को निकालने के लिए उपयोग होने वाले पदार्थ है।
  • लिवर के कार्य को बढ़ाने और उसमे हुए नुकसान को मरम्मत करने वाले पदार्थ।

Himalaya Liv.52 Syrup Uses in Hindi

  • लिवर रोग
  • लिवर सिरोसिस
  • हेपेटाइटिस
  • एनोरेक्सिया
  • बदहजमी
  • पीलिया
  • फैटी लीवर
  • अन्य यकृत के रोग

पाचन तंत्र में सुधार में उपयोगी

इस सिरप को ज्यादातर पाचन तंत्र को सुधारने में भी इसका उपयोग किया जाता है। अगर आपको पाचन की समस्या है तो आप इस औषधि का सेवन जरूर रूप में करें लेकिन एक बार अपने डॉक्टर से सहल जरूर ले और आपको इसके कुछ ही दिनों में इसके असर व फायदे नजर आने लगेंगे।

वजन बढ़ाने में उपयोगी

जो लोग अपने वजन को लेकर बहुत ही सीरियस है और नैचुरली अपने वजन को बढ़ाना या गैन करना चाहते है। तो ये हिमालया का liv.52 सिरप आपके बहुत ही ज्यादा काम आएगा। इस सिरप से आपका पाचन तंत्र में तो सुधार आएगा ही और साथ ही साथ आपको भूख लगने में भी मदद करेगीऔर जब आपको पूर्ण रूप से भूख लगेगी तब जब आप जो भी खाना खाएंगे उसके न्यूट्रिशन और जरुरी तत्व आपके शरीर को मिलेंगे। और इससे आपकी बॉडी तेज़ी से ग्रोथ करेगी और जिससे आपके वजन में परिवर्तन आएगा।

इसे भी जरूर पढ़े : – Urotex Forte Tablet Uses in Hindi – 2022

Himalaya Liv.52 Syrup को खुराक के रूप में कैसे ले ?

इस सिरप को 18 से कम आयु वाले दिन में तीन बार और खाने से पहले 1 छोटी चम्मच ले सकते है।

जो 18 से अधिक आयु के लोग है वे भी दिन में तीन बार ही ले और लेकिन खाने से पहले 2 छोटी चम्मच ले सकते है।

Himalaya Liv.52 Syrup के फायदे

लिव 52 यकृत रोगों में सुधार फायदेमंद एक हेपेटोप्रोटेक्टिव हर्बल-खनिज उपाय है। यकृत के कार्य की क्षमता में सुधार करता है इसमें क्षुधावर्धक जड़ी-बूटियाँ होती हैं। जिससे पाचन और भूख को सुधार करने में मदद भी करती हैं। यकृत के कई रोगो के खिलाफ रक्षक का कार्य करती है। और महत्वपूर्ण शराब पीने वाले लोगों के लिए है की जिगर की रक्षा में भी मदद करती है।

नुकसान, दुष्प्रभाव और साइड इफेक्ट्स ?

जी नहीं,क्योकि चिकित्सा साहित्य में Himalaya Liv.52 Syrup के दुष्प्रभावों के बारे में अभी तक कोई भी सूचना नहीं मिली है। हालांकि, Himalaya Liv.52 Syrup का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा जरुरी है की आप अपने डॉक्टर से सलाह लेकर ही इस दवा का जरुरत रूप में इसका उपयोग करें।

Himalaya Liv.52 सिरप से सम्बंधित FAQ

1.क्या Himalaya Liv.52 Syrup का उपयोग गर्भवती महिलाओ के लिए ठीक है?

ठीक रूप से शोध का कार्य न हो पाने की वजह से अभी ये Syrup के हानिकारक प्रभावों के बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं हैं। इसलिए आप इस सिरप का उपयोग नाही करे। अगर के तो एकबार डॉक्टर की सलाह जरूर ले।

2.लिव 52 सिरप और लिव 52 टैबलेट में क्या अंतर है?

उनका एक ही उद्देश्य है लेकिन हिमालया लिव 52 DS टेबलेट्स में अवयवों का संघटन liv.52 से दोगुना है ।

3.मुझे हिमालय लिव 52 सिरप कब लेना चाहिए?

liv.52 सिरप को दिन में ३ बार या अपने चिकित्सक के निर्देशानुसार लेने की सलाह दी जाती है।

4.Himalaya live.52 की कीमत कितनी है ?

live.52 सिरप की 200ml की कीमत 132 रूपया है।

मुझे आपसे पूरी उम्मीद है की आपको मेरा ये blog की liv 52 syrup uses in hindi आपको जरुर पसंद आई होगी। मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की मेरा ब्लॉग के reader को इस विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे websites में उस article के विषय में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी जानकारी भी प्राप्त हो जाये अगर आपको कुछ समझने में दिक्कत हो आ रहा हो तो आप मुझे नीचे comment भी कर सकते हो

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments