Wednesday, February 8, 2023
HomeGuideFL Studio Tutorial For Beginners Free 2022

FL Studio Tutorial For Beginners Free 2022

दोस्तों आज हम बात करने वाले है fl studio की यह एक डिजिटल ऑडियो वर्क स्टेशन है यानी music बनाने का एक professional software जो industry में यूज़ होता है तो आज का टॉपिक उनके लिए जरुरी है जो लोग नए है या पहेली बार म्यूजिक की इस फील्ड में अपने करियर की शुरुआत करना चाहते है। तो आज का टॉपिक fl studio tutorial जो beginners के लिए है।

FL Studio Tutorial For Beginners Step by Step

  • General
  • Browser
  • Tempo
  • Channel Rack
  • Piano Roll
  • Arrangement
  • Mixer
  • Export

Full Tutorial Of FL Studio For Beginners Step by Step

1. Introduction of FL Studio PC Software

जब आप FL Studio पहली बार खोलोगे तो कुछ इस तरह दिखाई देगा।

यहां आपको File,Edit,Option और बहुत कुछ ऊपर बाईं ओर जो है वो देखने को मिलेगा। सर्वप्रथम हम पहले स्क्रीन के ऊपर टूलबार जो है उसके बारे में बात करेंगे।

Transport Panel

सर्वप्रथम इस सेक्शन में आपको दो विकल्प दिखाई देंगे PAT और SONG। अगर आप PAT पर क्लिक करते है तो वो आपको चैनल रैक की व्यवस्था में ले जायेगा जिससे आप ऐसे ही SONG पर क्लिक करेंगे तो वो आपको Arrangement की व्यवस्था में ले जायेगा। उसके बाद play और pause का बटन है,फिर रिकॉर्डिंग का ऑप्शन मिलेगा और अन्ततः tempo का option होगा जहां आप अपने song की tempo को बढ़ा एवं घटा सकते है जिसके बारे में हम निचे जानेंगे।

Snap Panel

snap आपके beat के step को बढ़ने के लिए एवं दिए गए उपर image के option में divide करने के लिए इसका उपयोग होता है , जो पियानो रोल और arrangement के स्टेप की व्यवस्था में भी ग्रिड के snapping को निर्धारित करता है।

बायीं से दायी और बात करे तो सर्वप्रथम Arrangement, Piano Roll, Channel Rack, Mixer और Browser आइए ब्राउज़र क्या है समझते है।

2. Browser

FL स्टूडियो का browser वह जगह है जहाँ से आपके सभी material आते है, चाहे वो आपके samples हो presets हो या कोई file आपको यह पर मिलेगा। यहाँ पर आपको कई प्रकार के फ़ोल्डर्स मिलेंगे। उनमें अधिकांश के बारे में चिंता न करें, आइए जो मुख्य उसे देख लेते है।

Current Project

अगर आप current project में जाते है तो यहाँ आपको सभी जो आपके प्रोजेक्ट में यूज़ किये गए Sounds, Automation Clip, Process वो सभी current project में दिखेगा। यहाँ वहाँ जाने से अच्छा आप अपने प्रोजेक्ट में किये गए जो भी आपने effect,piano,pattern के कार्य और step by step जो किया है उसकी history भी आपको यही दिखेगी।

  • Automation क्या है ? इसका उपयोग कैसे करते है ?

इसका उपयोग अलग अलग प्रतिक्रिया में उपयोग होता है जैसे ऊपर दिखाए गए प्रोसेस में हमने volume का automation किया है अर्थात हमे starting में जितनी भी volume चाहिए आप अपने music के हिसाब से music का automation कर सकते है और इसी तरह आप जिसका ऑटोमेशन करना चाहते हो उसका कर सकते हो।

Packs

इसमें सभी तरह के जो अलग-अलग तरह के आपको drum,sounds,loops,FX,beat और sounds है अच्छे से अच्छा आपके लिए जो उपयोगी है वो होते वो सभी sounds होंगे,जिससे आप अपने song के हिसाब से लगा सकते है।

Plugin Database

current project के दायी ओर ही plug का option दिखेगा आप उपर इमेज में भी देख सकते है।आपके द्वारा use किया हुआ plugin भी यही show करेगा और यहाँ से आप किसी भी plugin का automation भी बना सकते है । आपके द्वारा किया गया add plugin भी यही पर दिखेगा।

3. Tempo

Tempo क्या है ?

Tempo ये म्यूजिक बनाने की सबसे महत्वपूर्ण कड़ी है क्योकि इसको सिखने के बाद ही आप म्यूजिक की स्कोप में आगे बढ़ सकते है अगर इसके बिना म्यूजिक बनाया जाये तो नियम के विरूद्ध होगा और वो अच्छे से बना ऐसा नहीं माना जायेगा,आईये Tempo के बारे में और जानकारी लेते है ।

tempo मतलब beats per minute इसका अर्थ यानि की अगर आप example लेते है एक घडी की एक घडी एक मिनट में ६० बार क्लिक देती है अगर हम beat की तरह मान ले तो वो हुआ 60 beat per मिनट हुआ। अगर आप अपने fl studio में 60 bpm रखते है तो आप घडी का example का फंडा समझ जायेगे और हम 60 bpm को बढ़ा के 100 रख देते है तो 1 minute में 100 बार click देगी।

fl studio में default tempo 130 होता है,जिसे आप अपने song के हिसाब से सेट कर सकते है।

4. Channel Rack

channel rack यह fl studio का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है ये एक ऐसी जगह है जहा आप कार्य कर सकते आपके द्वारा विचारे गए music beats के लिए loops और samples वगैरह…सभी का उपयोग करके आप एक नया pattern create कर सकते है और आपके project में fit कर सकते है।

इसमें 4 sounds (Kick,Clap,hat,snare) पहले से डिफ़ॉल्ट रूप से रहते है आप ऊपर लगी हुई इमेज में देख सकते है।और आप अपने हिसाब से और samples भी add कर सकते है।आप इसको चाहे तो channel rack के चारो कोनो को खींच के size काम ज्यादा भी कर सकते है तो आपके samples दिखने में सरल भी रहेंगे।

अच्छे से अच्छा म्यूजिक बनाने और सोचने के लिए की जैसे कोन सा music ,samples ,beats का मिक्सर किया जाये की हमारा पैटर्न बढ़िया बने इसलिए हमारा channel rack loop mode में काम करता है।

5. Piano Roll

channel rack में सबसे ज्यादा उपयोग में आने वाली वस्तु piano roll ही है। अपने music को बेहतर से बेहतर बनाने के लिए piano roll का उपयोग कर सकते है।आप piano roll में अपने music के लिए chords progression और melodies तैयार कर सकते है।

piano roll को ओपन करने के लिए सर्प्रथम channel rack में जायेंगे नीचे दिए हुए plus (+) के icone पे click करना है फिर आपको बहुत सारे plugin की list दिखेगी होगी हमने जैसे fl keys का उपयोग किया है वैसे आपको जो भी plugin choose करना है वो कर सकते है। उसके बाद channel rack पे plugin दिखेगा उसमे right click करने पर piano roll का option दिखाई देगा उसपे click करने के बाद आप का piano roll खुल जायेगा ।

  • Draw : पियानो नोट्स बना सकते हो और उन्हें इधर-उधर भी कर सकते हो।
  • Paint: आप इसमें अपने नोट्स को लगातार दोहरा सकते हो।
  • Paint (Sequencer): नोट्स को step by step लगातार दोहरा सके हो।
  • Delete : नोट्स पर क्लिक करके उन्हें हटा सकते हो।
  • Mute : नोट्स पर क्लिक करके उन्हें mute कर सकते हो।
  • Slice : नोट्स को 2 भागो में करना हो तो इस tool का उपयपग होता है।
  • Select : नोट्स के समूह का चयन करने के लिए क्लिक करें।
  • Zoom : नोट्स को ज़ूम करके देखने के लिए।
  • Playback : आप जिस नोट पे क्लिक करोगे वो आपको सुनने की अनुमति प्रदान करेगा।

इन सभी टूल्स का उपयोग आपको किस तरह करना है वो निचे दिखाए गए दृश्य में आप देख सकते हो की कौन से टूल का क्या कार्य और आप अपने piano notes की velocity अर्थात उसकी वॉल्यूम को कम और बढ़ा सकते है है।

6. Arrangement

arrangement में आपने जितने भी pattern बनाये जितने भी melodies और chord progression किये उन सब को आपके project में व्यवस्थित सेट कर देना है। और आप यहाँ पे अगर आपने channel rack पे pattern नहीं भी बनाया होगा तो आप यहाँ पे sounds एवं sampels को व्यवस्थित किसी भी track में रख सकते है यही fl studio की बहुत ही अच्छी बात है और उसे सेट कर सकते है

7. Mixer

इसमें जैसे आपकी vocal अर्थात आपकी या किसी की भी गायी हुई आवाज़ है,उसमे अच्छा उसे और बेस्ट बनाने के लिए हम खाली vocal पे ही यूज़ करके उसे बेहतरीन कर सकते है।

उसके पहले हमे उसे route channel mix देना होगा देने के लिए arragenmet में किसी भी sound,sampels या vocal वगैरह mixer पर double click करेंगे उसके बाद आप को corner पे dropdown का सोने दिखेगा फिर दायी और route to free mixer ट्रैक पर click करेंगे तो mixer insert हो जायेगा,आप उपर लगी इमेज में भी देख सकते है। उसके बाद जो चाहे उसपे कोई भी plugin या effect वो apply कर सकते है।

चैनल देने के बाद आपको उपर दिखाई गई इमेज की तरह इंटरफ़ेस होगा,जिससे आप आपने मिक्सर चैनल पे म्यूजिक को बेहतरीन करने के लिए अपने मन की कोई भी प्रतिक्रिया कर सकते है।

8. Export

सब काम पूरा होने के बाद अब जो आखरी चीज़ है और आपके के प्रोजेक्ट का आखरी चरण है उसे export करना।

दिखाए गए option में आपकी choice है अगर आपको high size full quality में export करना है तो आप wav पे क्लिक करके 320kbps तो प्रोजेक्ट की quality better होगी और mp3 में करने से प्रोजेक्ट की क्वालिटी wav के compare में कम होगी।

मुझे उम्मीद होगी ये ब्लॉग आपके लिए बहुत ही ज्यादा मददगार हुआ होगा अगर किसी की प्रकार की समस्या आती है तो आप नीचे कमेंट में पूछ सकते है उसका उत्तर जरूर मिलेगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments